Your browser does not support JavaScript उत्तर प्रदेश पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट | क्या है और क्या नहीं

क्या है और क्या नहीं

जीवन में करने और न करने योग्य महत्वपूर्ण

घर और कार्यालय पर

  • घर/आफिस की सीमा को सुरक्षित बनाइये।
  • इसे झाडी और पेड़ों से इस प्रकार सजाइये बाहर से अन्दर का दृश्य न देखा जा सके।
  • जहां तक हो सके केवल एक दरवाजे का प्रयोग करें तथा अन्य दरवाजों को अन्दर से बन्द रखें जबकि निकलने के लिए एक रास्ता जरूर रहे।
  • अपने टेलीफोन के पास महत्वपूर्ण करीबी थानों/कन्ट्रोल रूम जानकार पुलिस अधिकारी, मदद करने वाले पडोसी के टेलीफोन नम्बर रखें।
  • कार्यालय में आने वाले आगंतुकों के साथ सुरक्षा स्टाफ साथ आये तथा तब तक कार्यालय में रूका रहे जब तक कि एक दूसरे का अभिनन्दन/स्वागत सम्पन्न न हो जाय।
  • अपने मित्रों को अपेक्षित उपस्थिति से पूर्व टेलीफोन पर वार्ता हेतु उत्साहित करे यह अनापेक्षित पुकारने/आनेवालों की संख्या को न्यूनतम करने में सहायक होगी।
  • अपने निवास पर निगरानी हेतु कुत्ता रखिये।
  • मुख्य द्वार तव तक न खोलें जब तक कि द्वार पर लगी मैजिक आई से देख कर आगंतुक को पहचान न लें।
  • हर रात सोने से पहले अपने मकान के सभी खिड़की दरवाजों को चेक कर संतुष्ट हो लें कि यह अन्दर से भली-भांति बन्द है।
  • अन्धेरे में मुख्य द्वार की लाइट को जलता छोड़ दें।
  • घर-कार्यालय की कंुजियों को बड़ी सुरक्षा में रखें यदि चाभी खो जाती है तो नया ताला लगवायें।
  • घर या मकान के पास उपस्थिति संदिग्ध मोटर वाहन की सूचना पुलिस को दें।
  • अपने पडोसियों को भली-भांति पहचानें ताकि सामान्यता एक दूसरे के घर की निगरानी रख सकें।
  • जब तक टेलीफोन कर्ता की पहचान सुनिश्चित न हो जाय तब तक किसी व्यक्ति या स्थान पर मिलने का निमंत्रण स्वीकार न करें।
  • नौकरों को इस बात के लिए उत्साहित ना करें कि वह अपने दोस्तों /सम्बंधियों को आपके घर के अन्दर लायें।
  • घर के सभी सदस्यों, नौकर एवं कार्यालय स्टाफ से कहें कि जिन व्यक्ति की सुरक्षा की जा रही है उसकी उपस्थिति के वारे में किसी को न बतायें और उनको भी जो भविष्य में अपरिचित मिलने वाले हों।
  • असमय आने वाले संदिग्ध व्यक्ति को तब तक स्वीकार न करें जब तक कि आप उसे पहचान न लें। यदि कोई आगंतुक घर में घुसने का प्रयास कर रहा हो तो तुरन्त पुलिस को सूचित करें।
  • किसी भी प्रकार की हो रही निगरानी के आभास से सतर्क हो जाइये क्योंकि आतंकी व्यक्ति सामान्यतः हमला करने से पहले वह हमला करने वाले की क्षमता क्षमता को आंकता है।

जब यात्रा पर हों

  • हमेशा इस बात के लिये सतर्क रहें कि घर से निकलते समय /बापस आने पर /कार्यालय से निकलते समय तथा यात्रा करते अथवा गैरेज में गाडृी खडी करते समय आपके घर /कार्यालय आने पर कार के दरवाजे भली भांति बन्द हैं।
  • यदि गैरेज उपलब्ध न हो तो गाडृी को ऐसी जगह खडी करें जहाॅं वह प्रत्येक को दिखाई दे।
  • अपने आने जाने के रास्ते /समय को जल्दी जल्दी बदलते रहें कभी कभी रास्ते बदल कर जायें चाहे समय अधिक लगे। यदि आप गाडी से चलते हों तो सदैव उसका प्रयोग न करें।
  • कभी कभी वाहन चालक की अगली सीट पर बगल में बैठिये।
    यथा सम्भव समूह में यात्रा करें।
  • यदि आपको पीछा किये जाने का आभास हो तो परिचित मार्ग पर मुड़ जाइए और इस पर भी यदि आपका संदेह बरकरार है तो नजदीकी पुलिस स्टेशन पर जाइये। तंग और सुनसान /अंधेरी सड़क पर चलने से बचिये प्रकाश युक्त ऐसे मार्ग से चलिये जिसपर पुलिस पोस्ट हो।
  • किसी दुर्घटना के स्थान या टूटी फूटी गाड़ी से दूर रहिये यह आपको फंसा सकती है।
  • यदि सामने सड़क पर कुछ अप्रत्याशित संदिग्ध दिखाई देता है तो तुरन्त गाड़ी को रोकिये और देर होने से मोड दीजिये।
  • पूर्व निर्धारित भ्रमण कार्यक्रम की जानकारी केवल उन्ही व्यक्तियों को दें जिनको कि देनी आवश्यक हो।
  • यह सुनिश्चित करें कि आपके परिवार के सदस्यों में से कोई आपके विषय में यह जानता रहे कि आप किस समय कहाॅं हैं।
  • जब आप कार में यात्रा कर रहे हों तो खिड़कियों को उतना ही खोलें जितना हवा के आवागमन के लिये जरूरी हो।
  • सुरक्षात्मक उपाय में अपने वाहन चालक को भली प्रकार से समझा दे तथा उसे आक्रमणकारी एवं सुरक्षात्मक मोटर चालन का प्रशिक्षण भी दें।
  • इस बात का ध्यान रखें कि आपकी गाडी़ ज्यादा तड़क भडक या चमकीली न हो।
  • जब आप रेल से यात्रा कर रहे हों तो आप ऐसे डिब्बे में बैठें जो पहले से भरा हो।
  • डृयूटी पर नियुक्त पुलिस अधिकारी का यथासम्भव सहयोग करें।
  • उपलब्ध सुरक्षा कर्मी तथा निजी सहायकों को हमेशा साथ रखें जबकि आप यात्रा कर रहे हों या सुबह शाम टहल रहे हों।
  • हमेशा इस बात से सतर्क रहिये कि आपके घर/कार्यालय के बाहर क्या हो रहा है कोई भी अस्वाभाविक बात संदेह पूर्ण दृष्टि से देखें।
  • अपने चारों तरफ के लोगों का निरीक्षण करते रहें और उनके चेहरों को याद रखने का प्रयास करें। दुबारा मिलने पर आप उनके वारे में यह जान सकें कि पूव में यह किस समय और कहाॅं मिला था।
  • जब कभी आपको टैक्सी किराये पर लेनी हो तो लाइन में खड़ी पहली गाड़ी को किराये पर न लें या उसको जो इन्तजार करता प्रतीत हो न लें तथा यात्रा प्रारम्भ होने के पूर्व चालक को अपने रास्ते के बारे में कोई सुनिश्चित निर्देश न दें।

सुरक्षा जब आप घर पर होंः-

  • घर के बाहर मुख्य द्वार पर एक बाहरी रोशनी लगाइये जिससे आप पुकारने वाले को भली प्रकार अन्धेरे में भी देख सकें।
  • दरबाजे में मैजिक आई का प्रयोग करें और आगन्तुक से उसका नाम पूछें और तब तक दरवाजा न खोलें जब तक आप सन्तुष्ट न हो जब कि आगन्तुक कौन है और आपने उसे देखा है अथवा नहीं।
  • यदि आगन्तुक अपरचित है तो सदैव डोर चेन का प्रयोग करें या सीमित दूर रहें जब आप दरवाजा खोलें।
  • यदि आगन्तुक यह बताता है कि वह सरकारी सेवक, पोस्टमेंन आदि है चाहे वह पुलिस है दरवाजा चेन लगाकर खोलिये और उसके परिचय का प्रमाण लीजिये और उससे प्राप्त प्रमाण को परखने में देर लगाइये और उससे संतुष्ट होइये कि वह असली है। यदि आपको कोई संदेह है तो उससे कहिये कि वह इन्तजार करे या थोड़ी देर वाद आये ताकि उस अवधि में आप सम्बन्धित कम्पनी से उसको टेलीफोन द्वारा सत्यापित कर सकें।
  • यदि आगन्तुक अपशब्दों का प्रयोग करता है अथवा किसी अन्य प्रकार से संदिग्ध है तो टेलीफोन सख्या 100/ 299/ 999 पर फौरन पुलिस को सूचित करें तथा यथा सम्भव आगंतुक का हुलिया वयान करें।
  • यदि अपरचित किसी आपात कालीन बात को कह कर आपका टेलीफोन इस्तेमाल करना चाहे तो स्वयं टेलीफोन करिये और उसे वाहर इन्तजार करने को कहें।
  • यदि आप समझते हैं कि आपके घर में कोई व्यक्ति किसी भी समय सेंध का प्रयास कर रहा है तो पुलिस को सूचित करें। कभी भी समाचार पत्रों में अथवा स्थानीय दुकानों में कोई एड़वरटाइजमेन्ट न लगायें, यह अन्य लोगों को आपके घर में आने का अवसर देगा और उस समय आप अकेले हो सकते हैं।
  • यदि आप अपना घर बेचना/किराये पर उठाना चाहते हैं तो अपने मोहल्ले के आसपास के लोगों तथा दलालों को न दिखायें।
  • इसे राज्य के प्रमाणित कम्पनी के प्रतिनिधि या आपके दोस्त/पड़ोसी की इस कार्य में मदद ली जा सकती है।
  • जब आप घर बापस आयें तो एसी व्यवस्था रखें कि आपके बाहर की रोशनी जलती रहे और बाहर के दरवाजे की चाभी प्रयोग हेतु तैयार रहे।
  • आपके घर बगीचे/लान के पेड़/पौधे इस प्रकार कटे छटे हों ताकि अन्दर घुसे हुये व्यक्ति को छुपा न सके। जैसे आप अपने दरवाजे पर पहुॅंचें तो ताले में चाभी लगाने से पहले सभी दिशाओं में भली प्रकार से देख लें तथा दरवाजे के भीतर शीघ्र ही जाकर दरवाजे को बन्द कर लें!
  • यदि आप ऐसा संकेत पाते हैं कि आपके साथ में अप्रत्याशित घटना घटित हो सकती है तो अन्दर न जायं।
  • घर के बाहर घर की चाभी मत छुपाइये।
  • नौकर के चाभी देने से हिचके।
  • अपनी कुंजियों की अतिरिक्त कुंजी मकान के दरबान को मत सौपिये जबकि आप ऐसा न चाहें।
  • यदि घर की चाभी खो जाती है तो तुरन्त ताले के बदल दीजिये।
  • यदि आप प्रायः घर के बाहर रहते हों तो अपने घर की चाभियाॅं घर के विश्वसनीय पड़ोसी/अथवा सेफ कस्टडी में रखें।
Mahila Samman Prakoshtha, U.P. Police

महिला सम्मान प्रकोष्ठ

9454401149

Mahila Samman Prakoshtha, U.P. Police
Control Room

Control Room

फायर ब्रिगेड

101

Fire Brigade

एम्बुलेंस

108

Ambulance

वोमेन हेल्प पावर लाइन

1090

Women Help Power line

डाउनलोड मोबाइल ऐप

Download Mobile App

बाल सहायता नंबर

1098

Child Hepline