Your browser does not support JavaScript उत्तर प्रदेश पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट | सामान्य सुरक्षा नुस्खे

सामान्य सुरक्षा नुस्खे

घर में महिलाओं के लिए निजी सुरक्षा नुस्खे

  • जो महिलाएं अकेले रहती हैं उन्हें अपनी घर की नेमप्लेट पर और फोन डाइरेक्टरी में सिर्फ अपने नाम के पहले अक्षर और सरनेम लिखना चाहिए।
  • हमेशा घर के दरवाजे बंद रखें भले ही आप घर में हों या चंद मिनटों के लिए बाहर जाएँ।
  • खटखटने की आवाज पर तुरंत दरवाजा न खोलें। सुनिश्चित कर लें कि अजनबी आगंतुक को भीतर आने की इजाजत दिये जाने से पहले उसने अपने आप को उचित ढंग से पहचानवा लिया है। पहचान पक्की करके लिए आई-होल या मैजिक-आई का इस्तेमाल करें।
  • जिस दरवाजे से आप रात के समय भीतर आते हैं वहाँ बिजली जली छोड़ दें। अपनी चाभी तैयार रखें ताकि दरवाजा तुरंत खोल सकें।
  • रात में पर्दे बंद कर दें ।
  • कभी भी फोन पर या अजनबियों को यह न बताएं कि आप घर में अकेली होंगी।
  • लिफ्ट : यदि आप अपार्टमेंट बिल्डिंग में रहती हैं जहां आप अधिकांश निवासियों को जानती हैं, और आप अपने को लॉबी में किसी अजनबी के साथ अकेला पाती हैं तो लिफ्ट में उसको जाने दें और लिफ्ट वापस आने का इंतजार करें। यदि आप लिफ्ट में हैं और किसी अन्य कि उपस्थिति आपको असहज कर रही है तो कंट्रोल पैनल के पास रहें। यदि कोई आप पर हमला करे तो कंट्रोल पैनल में अलार्म बटन के साथ साथ जीतने बटन हो सकता है दबाएँ ताकि लिफ्ट कई तलों पर रुके।
  • यदि कोई अजनबी आपका फोन इस्तेमाल करने का आग्रह करे तो उसे अपने अपार्टमेंट में घुसने की इजाजत न दें। आप उसको फोन मिला कर दे दें।
  • आप घर लौट कर आयें और आपको वहाँ किसी की घुसपैठ के संकेत मिलें तो घर के भीतर न जाएँ और न ही चिल्लाएँ। नजदीकी पड़ोसी के घर जाएँ और वहाँ से पुलिस को फोन करें।

अक्सर यात्रा करने वाली महिलाओं के लिए

  • उपरोक्त सावधानियाँ पुरुषों और महिलाओं पर बराबरी से लागू होती हैं। बहरहाल, महिलाओं के लिए कुछ अतिरिक्त सुझाव हैं :
  • भली-भांति रोशन सड़कों पर ही चलें और अपना पर्स छिपा कर रखें।
  • अंधेरे वाली जगह पर आपकी कार खराब हो जाए तो कर अंदर अपने को बंद कर लें और पुलिस के आने का इंतजार करें।
  • यदि कोई अजनबी आपको रोक कर सहायता मांगे तो कार से बाहर न निकलें। उस व्यक्ति से मदद के लिए कॉल करने को कहें।
  • रास्ते में फंसे यात्री को रुक कर मदद की पेशकश न करें।
  • अगर आपको संदेह हो कि कोई आपका पीछा कर रहा है तो सीधे किसी पुलिस स्टेशन या पुलिस चौकी जाएँ।
  • महिलाओं से आग्रह किया जाता है कि वह किसी भी हालात में लिफ्ट न मांगें।
  • लिफ्ट मांग रहे किसी व्यक्ति को कभी भी न बैठाएँ।

चार-पहिया सुरक्षा

  • कार के भीतर प्रवेश करने या बाहर निकालने वक्त गाड़ी को दुहरे तरीके से लॉक कर लें।
  • अपने कार रेडियो और अन्य उपकरणों को शिनाख्त के लिए निशान लगा कर रखें।
  • स्विच वाले ताले का इस्तेमाल करें।
  • कार के भीतर कभी भी चेक बुक, क्रेडिट कार्ड, आदि बहुमूल्य सामान बिना निगरानी न छोड़ें। सभी समान तालेमिन में बंद करके रखें।
  • अपनी गाड़ी को अच्छी तरह रोशन और व्यस्त जगह पर पार्क करें।
  • अपनी गाड़ी का रजिस्ट्रेशन अपने साथ रखें। कोई चोर आपके रेजिस्ट्रेशन कागज को दिखा कर वहाँ की ‘वैधानिक’ मिल्कियत का दावा कर सकता है।
  • सड़क पर खड़ी गाड़ियों मी ताक झांक करने, खिड़की तोड़ने, तेल का पाइप या नंबर प्लेट हटाने जैसी संदिग्ध गतिविधि की रिपोर्ट करें।
  • कार में घुसने से पहले पीछे की सीट चेक कर लें।

बच्ची क्या करें, क्या न करें

  • किसी अजनबी के लिए, भले ही पैसा मिलने पर, कोई काम न करें
  • किसी अजनबी से न तो कभी मिठाई, टॉफी, उपहार स्वीकार करें न ही कभी सिनेमा आदि जाने आदि का न्योता स्वीकार करें।
  • किसी भी वजह से कभी भी अजनबी के संग कार में न बैठें।
  • कभी भी लिफ्ट न लें।
  • यदि कोई अजनबी आपको कार में बैठने के लिए दबाव डाले तो चिल्लाएँ और भागें। सुरक्षित दूरी से कार का नंबर नोट करें और अपने टीचर, माता-पिता या पुलिस को बताएं।
  • यदि आपकी चेतावनी के बावजूद आपका कोई मित्र किसी अजनबी के संग कार में जाता है तो कार का नंबर नोट करके तुरंत टीचर, माता-पिता या पुलिस को बताएं।
  • सुनिश्चित करें कि आपके माता – पिता को हमेशा यह जानकारी रहती है आप कहाँ हैं और किसके साथ हैं।
  • चंदा वगैरह इकट्ठा करते समय हमेशा दो या ज्यादा लोगों के समूह में रहें। कभी किसी अजनबी के घर के भीतर न जाएँ।
  • बच्चों को उनका पूरा नाम, पता और फोन नंबर सिखाएँ।
  • बच्चों को बताएं कि वह दरवाजे पर आए किसी व्यक्ति को या फोन पर ये न बताएं कि वह घर में अकेले हैं।
  • बच्चों को बताएं कि वह एक-दूसरे की निगरानी करें और कोई संदिग्ध या आसमान्य होने पर आपको जानकारी दें।
  • बच्चे जहां खेलते हैं वहाँ संदिग्ध व्यक्ति या वाहन की आवाजाही की जानकारी पुलिस को दें।
  • अपने भरोसेमंद पड़ोसी से कहें कि आपकी अनुपस्थिति में किसी इमरजेंसी या खतरा होने पर आपके बच्चों को अपने घर में सुरक्षित पनाह दें। पड़ोसी से अपनी ओर से भी ऐसी पेशकश करें।
  • हर बच्चे को जानना चाहिए कि पुलिस उनकी मित्र है और उसे वह उनकी वर्दी से पहचान सके, और यह भी जाने कि बच्चे के घबरा जाने पर या खो जाने पर पुलिस उसकी मदद करेगी।
  • बच्चों को दोस्तों के संग खेलने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। उन्हें किसी भी हालत में सुनसान जगहों या खाली इमारतों में खेलने नहीं देना चाहिए।
  • अभिभावकों को हमेशा पता होना चाहिए कि उनके बच्चे कहाँ हैं।
  • अभिभावकों को सुनिश्चित करना चाहिए कि उनके बच्चों की देखरेख करने वाले पहचान के और भरोसेमंद हैं।

स्कूल सदैव सुनिश्चित करें

  • बच्चों को उनके अभिभावकों की फोन पर सहमति के बगैर किसी भी अन्य व्यक्ति के हवाले न करें।
  • यदि अभिभावक बच्चे को स्कूल से जल्दी छुट्टी देने को कहें तो फोन करने वाली कि पहचान सुनिश्चित करें। स्कूल रिकर्ड में दर्ज अभिभावक के घर के फोन नंबर पर वापस फोन करें।
  • यादों फोन घर से अलावा कहीं और से आया है तो फोन करने वाले से बच्चे का ब्योरा पूछें और फोन करने वाले की पहचान सुनिश्चित करें।
  • सुनिश्चित करें कि प्रत्येक आगंतुक स्कूल के दफ्तर में आता है। स्टाफ को किसी अनजान व्यक्ति के स्कूल बिल्डिंग में आने के प्रति चौकन्ना रखें।

छुट्टियों में जाने पर याद रखें

  • पत्र, अखबार, दूध आदि की डिलिवरी रद कर दें।
  • अपनी अनुपस्थिति में लॉंन की घास कटवाने और पेड़ पौधों में पानी देने का इंतजाम कर के रखें।
  • अख़बारवाले, दूधवाले आदि के लिए कोई संदेश लिख कर न छोड़ें।
  • अपनी छुट्टियों के बारे में ज्यादा प्रचार न करें।
  • बाहर जाने की अपनी योजना के बारे में भरोसेमंद पड़ोसी को सूचित करें और घर की एक चाभी उसे दे जाएँ।
  • सुनिश्चित कर लें कि औज़ार और सीढ़ियाँ छिपा कर रखी हुयी हैं।
  • खिदकियों से पर्दे हटा कर रखें। पर्दे ढंके होने से चोर बाहर से पड़ोसियों को नजर नहीं आयेगा।
  • घर के फोन की रिंग एकदम धीमे कर दें क्योंकि लगातार बजता फोन घर में किसी के न होने का संकेत होता है।
  • छुट्टी पर जाने पर रात के वक्त कार में समान पैक न करें। सब समान तैयार रखें ताकि सुबह जाने के समय कार में समान रख सकें। यह काम तत्परता से करना चाहिए ताकि अड़ोस-पड़ोस में किसी अजनबी को आपकी गतिविधि देखने का समय न मिल सके।
  • जाने से पहले देख लें कि सब दरवाजे और खिड़कियाँ बंद हैं।
  • सुनिश्चित कर लें कि गैराज में ताला बंद है। गैराज में औज़ार होते हैं जिनसे चोर को घर में घुसने में मदद मिल सकती है। इसके अलावा गैराज के भीतर चोर को छिपे रहने की जगह मिल जाती है।

अपने पड़ोसी से यह आग्रह करें

  • दरवाजे पर पड़े कागज को वहाँ से हटा दिया करें।
  • घर के भीतर सजा सज्जा को यदा कदा बदल दिया करें।
  • घर के इर्दगिर्द संदिग्ध अजनबी की गतिविधि, या किसी को पूछताछ करता देखने पर पुलिस को सूचित करें।
WPL
Women Help Power line
Control Room

Control Room

फायर ब्रिगेड

101

Fire Brigade

एम्बुलेंस

108

Ambulance

डाउनलोड मोबाइल ऐप

Download Mobile App

बाल सहायता नंबर

1098

Child Hepline